GST શું છે ? A Report By :- વેંકટેશ ભૃગુ

 

GST क्या है???

★ GST एक Indirect Tax है जो वस्तुओं और सेवाओं इन दोनों पर लगेगा। अब देश में वस्तुओँ और सेवाओं पर एक ही कर लगेगा। देश में GST का Rate अभी तक तय नही हुआ है। लेकिन 18% Rate Fix करने की बात कही जा रही है। यदि 18% Rate तय होता है तो आपको 18% GST चुकाना पड़ेगा। अभी आम आदमी 12.5% Excise Duty और VAT अपने अपने राज्य के दर से कुल मिलाकर 26 से 28% Tax चुकाता है।

◆ Tax किसे कहते है?

★ “कर” उस राशि को कहा जाता है जिसे देश के नागरिकों को अपने राष्ट्र को अनिवार्य रूप से देना होता है इसके बदले में नागरिकों को कोई व्यक्तिगत लाभ नही होता इसका हमेशा Public Interest ही होता है।

◆ Indirect Tax किसे कहते है?

★ अप्रत्यक्ष कर (Indirect Tax) उसे कहते है जिसमे Burden of Tax को Shift किया जा सकता है। इसमें Incidence of Tax और Impact of Tax अलग अलग व्यक्तियों पर पड़ता है। Indirect Tax मात्र वस्तुओं पर ही लगता है।

◆ अभी आप 15% की दर से Service Tax चूकाते है। यदि आपका मोबाइल बिल 1000 रुपये है तो उस पर 15% service tax के अनुसार 150 लगते है यानि आपका 1000 का बिल 1150 रुपये का हो जाता है। 18% GST लागू होने के बाद आपको 180 रुपये Tax के रूप में चुकाने पड़ेंगे यानि आपका 1000 रुपये का मोबाइल बिल 1180 का हो जायेगा।

◆ GST से कौन कौन से Taxes हट जायेंगे??

★ देश में एक बार GST लागू हो जाने के बाद राज्य सरकार और केंद्र सरकार द्वारा लगनेवाले कई Taxes का मायाजाल खत्म हो जायेगा। इसमें केंद्र सरकार द्वारा लगनेवाली Excise Duty, Additional Excise Duty,Service Tax,Additional Customs Duty,Special Additional Customs Duty जैसे Taxes खत्म हो जायेंगे वहीँ राज्य सरकारों द्वारा लगनेवाले VAT, Purchase Tax, Octroi,Entertainment Tax Luxury items पर लगनेवाले Tax यह सब खत्म हो जायेंगे।

◆ Out From GST

★ पेट्रोलियम क्रूड, पेट्रोल-डीज़ल, Natural Gas,शराब,Aviation Turbine Fuel etc को GST के दायरे से बाहर रखा गया है।

◆ किन क्षेत्रो को GST से लाभ होगा??

★Logistics,Automobiles,FMCG(Hindustan Lever,P&G,ITC), घर उपयोग की वस्तुए, जैसे क्षेत्रों को अप्रत्याशित लाभ होगा क्योंकि यह सब सस्ती हो जायेगी जिससे इनकी बिक्री में काफी बढ़ोतरी देखने को मिलेगी। अभी इन सब पर ज्यादा Tax लगता है जो घटकर 18% पर आ जायेगा।

◆ किन क्षेत्रो को GST से हानि होगी???

★ छोटी गाड़िया बनानेवाली कंपनियों, Mobile Phones,होटलो में खाना,हवाई यात्रा, दवाइयां,बैंकिंग, Online Shopping, इन्शुरन्स सेवाएं इत्यादि महँगी हो जायेंगे क्योंकि अभी इन पर 18% से कम Tax लगता है GST लागू हो जाने के बाद इन सभी पर 18% का Tax लगेगा जिससे यह सब महँगी हो जायेगी। सारी सेवाएं महंगी हो जायेगी।

◆ GST का भारतीय अर्थव्यवस्था पर क्या और कैसा असर होगा???

★ Macroscopic दृष्टि रखकर सोचा जाये तो GST के लागू होने से भारत में Service Sector (सेवा क्षेत्र) में रोज़गार में काफी वृद्धि होगी। सारी बड़ी FMCG Giants के लिए भारत का मार्केट खुल जायेगा। Market में इन बड़ी बड़ी MNCs के प्रवेश के बाद छोटे छोटे भारतीय उत्पादक/व्यापारी,Unorganized Sector के उत्पादक, इत्यादि इन बड़ी कंपनियों से टक्कर न लेने पाने के कारण बंद हो जायेंगे।

★ एक समय के बाद Multinational companies भारत में Monopolistic Market का निर्माण ही करेंगी। इससे #Corporatocracy को ही बढ़ावा मिलेगा। आज दुनिया में ऐसी कई Companies है जो विश्व के कई देशो से भी ज्यादा अमीर है। Monsanto,Apple,Vodafone,Microsoft इसके उदाहरण है।

◆ Relationship between GST- FDI

★ पिछले दो वर्षों में भारत में FDI के द्वारा भारी मात्रा में विदेशी निवेश हुआ है। ऐसे में एक तरफ FDI और दूसरी तरफ GST का एक ही समय में लागू होना काफी सवाल खड़े करता है। FDI से होता यह है कि Economy पर State Monopoly की जगह Private Companies की Monopoly हो जाती है। Economy का काफी Privatization हो जाता है। इससे देश के आर्थिक गुलाम बनने के काफी chances होते है। भारत के छोटे छोटे व्यापारी/उत्पादक इन बड़ी बड़ी विदेशी कंपनियों की कम्पटीशन के सामने टिक नही पाते और उनका उद्योग बंद ही जाता है। MNCs भारतीय कंपनियों में अपना Share Holding बढ़ाकर उन्हें खरीद लेती है। आनेवाले समय में आपको यह खबरे ज्यादा सुनने को मिलेगी की फ़लाँणी विदेशी कंपनी ने भारतीय कंपनी को खरीद लिया। देश की व्यापारिक वृत्ति खत्म हो जायेगी और देश मज़दूरों का देश बनकर रह जायेगा।

A Report By :- वेंकटेश भृगु©®